Chhattisgarh News

संशोधन पीड़ित शिक्षकों की समस्याओं के समाधान हेतु आगे आये वीरेंद्र दुबे, सचिव और संचालक से मिल कर समाधान करने की मांग

संशोधन पीड़ित शिक्षकों की समस्याओं के समाधान हेतु आगे आये वीरेंद्र दुबे,संशोधन शाला मे ज्वाइनिंग को लेकर आज शिक्षा सचिव और संचालक लोक शिक्षण संचालनालय से किया मांग: दोनों अधिकारियों ने दिया जल्द समाधान का दिया भरोसा

कोर्ट के स्पष्ट निर्देश के बाद भी ज्वाइनिंग न देने पर जताई नाराजगी शालेय शिक्षक संघ ने कहा शिक्षकों को प्रताड़ित करना बंद करें,तत्काल ज्वाइनिंग देकर वेतन प्रदान करे विभाग

शालेय शिक्षक संघ ने किया अपील, पीड़ित शिक्षक साथी न हो हताश, संगठन है आपके साथ

रायपुर। शिक्षक पदोन्नति उपरांत संशोधन को लेकर प्रदेश लगभग 4000 शिक्षकों का पिछली सरकार मे उनका संशोधन निरस्त कर दिया गया था,जबकि संसोधन एक समस्त विभागो की सामान्य प्रक्रिया होती है। शिक्षा विभाग के एक संविदा अधिकारी के मनमानी के चलते इन शिक्षकों के संसोधन को निरस्त कर उन्हे एकतरफा कार्यमुक्त कर दिया गया था,जिसके विरुद्ध ये तमाम शिक्षक न्याय की आस मे हाईकोर्ट चले गये और माननीय हाईकोर्ट ने भी शिक्षकों पर हुए इन कार्यवाही को निरस्त करते हुए इन्हे इनके संशोधित शाला मे ज्वाइन देने तथा इनके वेतन व सत्वों के भुगतान करने का निर्णय दिया, किन्तु हाईकोर्ट के इस निर्णय के बाद भी अब् तक इन शिक्षकों को ज्वाईन देने के लिए विभागीय अधिकारी एक दूसरे पर तालमटोल करते रहे।जिससे आक्रोशित होकर शालेय शिक्षक संघ इन शिक्षकों को मिले न्याय को कार्यान्वित करने के लिए आगे आया और आज संगठन के प्रांताध्यक्ष वीरेंद्र दुबे के नेतृत्व मे संशोधन पीड़ित शिक्षकों के समूह के साथ स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव एस भारतीदासन और लोक शिक्षण संचालनालय के संचालक सुनील जैन से मुलाक़ात की और इन शिक्षकों को अविलम्ब उनके संशोधित शाला मे ज्वाईन् देने तथा इनके लंबित वेतन को जारी करने की मांग की। जिस पर दोनो अधिकारियों ने जल्द निराकरण करने का आश्वासन दिया। उन्होंने बताया कि विभाग इसकी समुचित तैयारी कर रहा है, तकनीकी समस्याओ के चलते अभी तक आदेश नही पाया, आदेश क्रियान्वयन हेतु हमने माननीय कोर्ट से 15दिन् का और समय मांगा है, जल्द ही कोर्ट के निर्देशों का पालन किया जायेगा।

*सम्पूर्ण समाधान की चर्चा के लिए एक आवश्यक बैठक 17 दिसंबर दिन रविवार को दोपहर 12 बजे कलेक्ट्रट गार्डन रायपुर मे रखी गई है,जिसमे प्रदेश के समस्त संशोधन पीड़ित शिक्षक सम्मलित होंगे।*

संशोधित पीड़ित शिक्षकों के समूह और शालेय शिक्षक संघ के प्रतिनिधिमंडल मे विशेष रूप से प्रांतीय महासचिव धर्मेश शर्मा, प्रदेश मीडिया प्रभारी जितेंद्र शर्मा, विवेक राय, विक्रम राजपूत,द्वारिका भारद्वाज,जितेंद्र सिंहा, शशि अग्रवार,भगवती प्रसाद कोसरिया,जितेंद्र यादव, चंद्रशेखर राजपूत,वरुण साहू,राजेश साहू आदि के सैकड़ो की संख्या मे आज मंत्रालय नवा रायपुर मे एकत्रित हुए और वीरेंद्र दुबे के नेतृत्व मे उच्चाधिकारियों से मुलाक़ात कर समस्याओ के अविल्म्ब समाधान का आग्रह किया। विगत 4 माह से वेतन न मिलने के कारण इन पीड़ित शिक्षकों के परिवारजन के समक्ष जीवन निर्वाह करने की बड़ी समस्या आ गई है, इसी तरह पेंडुलम की तरह लटके रहने के कारण संशोधित शाला के विद्यार्थियों की पढ़ाई पर भी बुरा असर हो रहा है। कोर्ट के निर्णय के बाद भी अब तक ज्वाइनिंग ने देने को वे अपना शारीरिक मानसिक और आर्थिक प्रताडणा बताते हुए शीघ्र समाधान को अत्यंत ज़रुरत बताया।

शालेय शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष वीरेंद्र दुबे ने कहा कि इन पीड़ित शिक्षक साथियो को न्याय दिलाने मे हम कोई कसर बाकि नही रखेंगे, इसलिए घबराने या हताश होने जरूरत नही है,हमारा संगठन आपके साथ है, जरूरत पड़ी तो मुख्यमंत्री व मंत्रिमन्डल से भी मिलकर जल्द करवाएंगे।

मुलाक़ात करने वालों मे दिनेश गिलहरे,संजय एनेश्वरी, हास राम साहू, अभिनव झा, अतुल मिश्रा,अजय साहू,प्रसन्नजीत शर्मा, दीपक सिंह,आशीष वर्मा,रजनी झा, ममता तिवारी,सपना चंद्राकर,डायमंद सिंहा,योगेंद्र वर्मा,कीर्तन साहू, शेखर साहू,पावन साहू, के एन मिश्रा,डोमन साहू,पूर्णेन्द्र पाल,भूपेंद्र साहू आदि सैकड़ो पीड़ित शिक्षक मौजूद थे।

*वीरेंद्र दुबे*
प्रांताध्यक्ष
*छ्ग शालेय शिक्षक संघ*


There is no ads to display, Please add some
alternatetext
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

The Latest

To Top

You cannot copy content of this page

$(".comment-click-41572").on("click", function(){ $(".com-click-id-41572").show(); $(".disqus-thread-41572").show(); $(".com-but-41572").hide(); });
$(window).load(function() { // The slider being synced must be initialized first $('.post-gallery-bot').flexslider({ animation: "slide", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, itemWidth: 80, itemMargin: 10, asNavFor: '.post-gallery-top' }); $('.post-gallery-top').flexslider({ animation: "fade", controlNav: false, animationLoop: true, slideshow: false, prevText: "<", nextText: ">", sync: ".post-gallery-bot" }); }); });